Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

दहेज़ मेरे देश में ................

शादी की तारीख पक्की

करने से पहले ही

पक्का किया जाता है लगेज मेरे देश में


तब कहीं होती है नसीब

यहाँ बेटियों को

ससुराल की सुहाग सेज मेरे देश में


गरीबों की बेटियों का

ब्याह हो गया है आज

काम बड़ा मुश्किल अंगेज मेरे देश में


रोज़-रोज़ दस-बीस

मासूमों का खून देखो

चूसता ही जा रहा दहेज मेरे देश में

5 comments:

Anil Pusadkar June 13, 2009 at 9:53 AM  

रोज़ कई घर तोड़ रहा है,
दहेज मेरे देश में।

करारा तमाचा है समाज के लालची लोगो के मुंह पर्।

ताऊ रामपुरिया June 13, 2009 at 11:09 AM  

सटीक बात कही. बहुत बडा कोढ है ये देश का.

रामराम.

cartoonist anurag June 13, 2009 at 11:47 AM  

khane ko roti nahi, chuhe doud rahe pat main...... bahut khoob likha hai.

cartoonist anurag June 13, 2009 at 11:49 AM  

khane ko roti nahi, chuhe doud rahe pat main...... bahut khoob likha hai.

cartoonist anurag June 13, 2009 at 11:55 AM  

khane ko roti nahi, chuhe doud rahe pat main...... bahut khoob likha hai.

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive