Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

मलिक दिनार का अनमोल वचन



जिन्हें
ईश्वर की स्तुति

और ईश्वर का स्मरण करने के बदले

लोगों को शास्त्रों के वचन सुनाना ही अच्छा लगता है,

प्राय: उन सब का ज्ञान ऊपरी है, जीवन सारहीन है


-मलिक दिनार


7 comments:

ओशो रजनीश September 25, 2010 at 10:47 AM  

अच्छी पंक्तिया लिखी है ........

यहाँ भी आये और अपनी बात कहे :-
क्यों बाँट रहे है ये छोटे शब्द समाज को ...?

Majaal September 25, 2010 at 10:57 AM  

वो कहते हैं ना , पर उपदेश कुशल बहुतेरे ..

Unknown September 25, 2010 at 5:32 PM  

...satya wachan hai!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' September 25, 2010 at 6:24 PM  

यह सूक्ति बहुत काम की है!

राज भाटिय़ा September 25, 2010 at 7:10 PM  

आज कल ऎसे ज्ञानी टी वी पर ओर बडे बडे आश्रमओ मै लोगो को खुब चुना लगा रहे है, बहुत सुंदर जी धन्यवाद

raj porwal September 25, 2010 at 8:58 PM  

कोई भी मनुष्य ईश्वर की जगह नहीं ले सकता, इसलिए केवल ईश्वर की स्तुति करनी चाहिए, क्यूँ की वहा से आपको कोई धोखा मिलने वाला नहीं है.

गजेन्द्र सिंह September 26, 2010 at 12:58 AM  

बहुत सुन्दर और ज्ञानवर्धक

पढ़िए और मुस्कुराइए :-
क्या आप भी थर्मस इस्तेमाल करते है ?

Post a Comment

My Blog List

myfreecopyright.com registered & protected
CG Blog
www.hamarivani.com
Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive