Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

मूर्ख लोग ज्ञानियों से कुछ नहीं सीखते, लेकिन ज्ञानी मूर्खों से बहुत कुछ सीख लेते हैं

शिक्षक दिवस के शुभावसर पर समस्त शिक्षकों एवं गुरुजनों को

सादर प्रणाम करते हुए आज प्रखर स्वतंत्रता सेनानी दादा भाई

नौरोजी की स्मृति को भी भावभीनी श्रद्धांजलि देता हूँ और शिक्षा

से जुड़े कुछ अनमोल वचन यहाँ प्रस्तुत कर रहा हूँ :


आदमी को ऐसा सिखाना कि वह आज़ाद रह कर अपना विकास कर

सके, शायद यह सबसे बड़ी सेवा है जो एक आदमी दूसरे के प्रति कर

सकता है

-बेंजामिन जोवेट



इस संसार में एक ही शिक्षण लेने की ज़रूरत है और वह है प्रेम का शिक्षण

-स्वामी रामतीर्थ


जानकार से सीखो, जो ख़ुद ही अपने को सिखाता है, उसने एक मूर्ख को

अपना शिक्षक बना रखा है

-फ्रैंकलिन


मूर्ख लोग ज्ञानियों से कुछ नहीं सीखते, लेकिन ज्ञानी मूर्खों से बहुत

कुछ सीख लेते हैं

-डच कहावत



पक्के ज्ञान की एक मात्र पहचान है सिखाने की शक्ति

-अरस्तू


चरित्र निर्माण शिक्षा का एकमात्र नहीं तो महान उद्देश्य अवश्य है

-ओशो


paryushana parva, chaaturmas, aacharya mahapragya, anu vrat, jain samaj, navkaar mahamantra, namaskar, naman mahima, albela khatri, hasyakavi, surat, gujarat, dharm, ahinsa, terapanth yuvak parishad, digambar, shvetambar jain, sthanakvaasi jain,

11 comments:

Majaal September 4, 2010 at 4:56 PM  

समझदार और मूर्ख को छोड़ कर और भी कई तरह के जंतु इस जगत में पाए जातें है. उनमे से मेरे प्रिय है बुद्धिजीवी. उनके बारे में किसी ने कुछ खूब कहा है :
अगर अपना कहा तुम आप ही समङो, तो क्या समझे?
मजा कहने का तब है, जब एक कहे, दूसरा समझे।
मगर इनका कहा ये आप समझे या खुदा समझे।।

अच्छा संकलन ....

Udan Tashtari September 4, 2010 at 5:18 PM  

उत्तम संकलन! आभार.

पी.सी.गोदियाल "परचेत" September 4, 2010 at 6:16 PM  

Bahut sundar Quote diye aapne khtri sahaab !

पी.सी.गोदियाल "परचेत" September 4, 2010 at 6:17 PM  

"मूर्ख लोग ज्ञानियों से कुछ नहीं सीखते, लेकिन ज्ञानी मूर्खों से बहुत कुछ सीख लेते हैं "

Pate kee baat !

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' September 4, 2010 at 8:50 PM  

गुरू साक्षात् पारब्रह्म तस्मैं श्री गुरवे नमः!

अनामिका की सदायें ...... September 4, 2010 at 11:18 PM  

acchha sanklan.

कुमार राधारमण September 4, 2010 at 11:27 PM  

अगर इनमें से कोई भी एक बात याद रह जाए,तो जीवन अद्वितीय होना निश्चित समझिए।

Anil Pusadkar September 4, 2010 at 11:42 PM  

जय हो गुरूजी।

E Valavan September 5, 2010 at 3:52 AM  

राजनीति , व्यापार , मनोरंजन , स्पोर्ट और गेम्स , जीवन एवं , घटनाक्रम , स्वास्थ्य - www.jeejix.com - Two Minutes Registration, Join with millions !!

Unknown September 5, 2010 at 11:43 AM  

happy teacher's day.

Unknown September 5, 2010 at 12:58 PM  

अनमोल वचनों का सुन्दर संकलन!

Post a Comment

My Blog List

myfreecopyright.com registered & protected
CG Blog
www.hamarivani.com
Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive