Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

शीतल मोटर्स का स्नेह सम्मेलन प्रभावित कर गया

एक तरफ़ जहाँ सचमुच के रिश्ते आजकल ताक पर रख दिए जाते है

वहीँ कुछ ऐसे लोग भी हैं जो नये-नये रिश्ते गढ़ लेने और उनके साथ

पारिवारिक वातावरण बना देने का सामर्थ्य रखते हैं


मैं बात कर रहा हूँ अहमदाबाद के एक बड़े व्यवसायी श्री अरविन्द

भाई की जिनकी फ़र्म शीतल मोटर्स महिंद्रा एंड महिंद्रा निर्मित

कारों की गुजरात में सबसे बड़ी डीलर है और अपने ग्राहकों के

साथ विनम्र व्यवहार तथा सहयोग के लिए काफी प्रसिद्द है, उन्होंने

परसों अहमदाबाद के पंचरत्न पार्टी प्लाट में एक स्नेह सम्मेलन रखा

था जिसमें उन सभी लोगों को आमंत्रित किया जिन्होंने शीतल

मोटर्स से कार या कारें खरीदी थी


बड़ा अच्छा लगा ये देख कर कि एक व्यवसायी ने अपने ग्राहकों को

परिवारजन की भांति प्यार व आदर दिया तथा उनकी सेवा में एक

शानदार और रंगारंग प्रोग्राम तथा स्वरुचिभोज का इन्तेजाम भी

किया था


मैं वहा विशेष रूप से आमंत्रित था लोगों को हँसाने के लिए ।

मैंने लोगों को हँसाया भी लेकिन मैं स्वयं भावुक हो गया इस

अनूठे प्यार भरे वातावरण को देख कर .....



गर्मी ने फाड़ रखी है सबकी छत्री

अब क्या करे अलबेला खत्री.............

सो शीतल जल से ही काम चला रहे हैं भाई...........

























www.albelakhatri.com

8 comments:

Mithilesh dubey May 12, 2010 at 7:58 PM  

बढ़िया लगा पढ़कर ।

ब्लॉ.ललित शर्मा May 12, 2010 at 8:10 PM  

गर्मी ने फाड़ रखी है सबकी छत्री

अब क्या करे अलबेला खत्री....:):):):):)

अविनाश वाचस्पति May 12, 2010 at 9:08 PM  

सबके घर एक एक छतरी भिजवाएं। चाहें तो खरीद कर सदर बाजार, दिल्‍ली से ले जाएं।

हिंदीब्लॉगजगत May 12, 2010 at 9:58 PM  

ज्ञानदत्त जी से जलने वालों! जलो मत, बराबरी करो. देखिए

शिवम् मिश्रा May 13, 2010 at 1:15 AM  

सच में बहुत गर्मी है भाई जी .......मौसम में भी और ब्लॉग जगत में भी !!

दीपक 'मशाल' May 13, 2010 at 1:46 AM  

अलबेला सर, दुनिया में कितने ही बुरे लोग पैदा हो जाएँ लेकिन अच्छे लोग हर जगह मिल जायेंगे जो उदाहरण बनकर दुनिया के सामने आते रहेंगे.

Sanjeet Tripathi May 13, 2010 at 1:53 AM  

sahi kaha aapne rishte gum hone ke daur me kuchh log hi milte hain jo rishte gadh lete hai, lekin jyada milte hai jo rishto mebhi rajniti karte hain...

एक अपील ;)

हिंदी सेवा(राजनीति) करते रहें????????

;)

M VERMA May 13, 2010 at 5:52 AM  

गर्मी ने फाड़ रखी है सबकी छत्री

अब क्या करे अलबेला खत्री.............
अन्दाजे बयाँ आपका बहुत खूब

Post a Comment

My Blog List

myfreecopyright.com registered & protected
CG Blog
www.hamarivani.com
Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive