Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

ख़ूब जमा कवि-सम्मेलन पिथोरा में, ऐसा समाचार अखबारों में भी छपा है भाई !



5 comments:

जी.के. अवधिया December 4, 2011 at 8:45 AM  

अलबेला जी, पिथौरा से आपके रायपुर आने के बारे में ललित शर्मा जी ने बताया भी था और आपसे मिलने की हार्दिक इच्छा भी थी। पर "मेरे मन कछु और है कर्ता के कछु और"। ऐसा आवश्यक काम आन पड़ा कि मन की इच्छा मन ही में रह गई। आशा करता हूँ कि फिर कभी आपसे मुलाकात होगी।

AlbelaKhatri.com December 4, 2011 at 8:57 AM  

अवश्य होगी अवधिया जी...........इस बार तो मेरे भी मन में ही रह गई ..हाँ ललित जी ने अनिल पुसदकर जी से ज़रूर मिलवा दिया था

Ratan Singh Shekhawat December 4, 2011 at 11:01 AM  

अलबेला खत्री जी कवि सम्मलेन में हों तो रंग जमेगा ही :)

Gyan Darpan
Matrimonial Site

Shankar Goyal December 4, 2011 at 12:16 PM  

albelaji aapne pithora kavi sammelan ke baaren me jo baaten kahi hai vah to solah aane sahi hai srinkhalaa sahitya manch pithora ke dwara yah prayas hota hai ki shrotaon ka swaswth manoranjan ho sake.aur kuchh naya karne ki prerna mil sake.

AJMANI61181 December 4, 2011 at 1:11 PM  

sir ji tussi great ho

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive