Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

नारी के साथ इतना उपेक्षापूर्ण व्यवहार क्यों ?


हे भगवान् !

आप ने ऐसा क्यों किया ?

नारी के साथ इतना उपेक्षापूर्ण व्यवहार क्यों किया ?

पुरूष के लिए तो तुमने

स्वर्ग में सोमरस और नर्तकियों की टनाटन व्यवस्था

कर दी

लेकिन नारी के लिए क्या ?

नारी भी क्या नारी का ही डांस देखे ?

क्या मज़ा आएगा ?

ऐसी व्यवस्था में तो नारियों का सारा पुण्य प्रताप

व्यर्थ ही जाएगा .............

इनके लिए भी उचित व्यवस्था कर.............

और जल्दी कर

क्योंकि नारी अब जाग गई है.........

समझ गया ?

हाँ ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

ज़्यादा कहूँगा तो मुझ पर अश्लीलता का आरोप लग जाएगा

इसलिए मैं तो निकलता हूँ

जयपुर और हरियाणा की चार दिवसीय काव्य-यात्रा पर

14 तारीख को फिर भेन्ट होगी.............

तब तक अपनी भूल सुधार ले.............


प्रार्थी,

-
अलबेला खत्री

















www.albelakhatri.com

4 comments:

राज भाटिय़ा March 9, 2010 at 9:22 PM  

अरे अरे जाते जाते भी पंगा ले रहे है ब्लांग जगत की डान ओर थाने दारनियो से, बचके रहना रे बाबा

Mithilesh dubey March 9, 2010 at 10:21 PM  

बिल्कुल सही कहा आपने ।

Tej Pratap Singh March 10, 2010 at 2:44 AM  

Albela ji aap itna sara kaam kaise ker lete hain........???

Babli March 10, 2010 at 11:09 AM  

जयपुर और हरियाणा का यात्रा शुभ हो! जल्द ही मुलाकात होगी!

Post a Comment

My Blog List

Google+ Followers

About Me

My photo

tepa & wageshwari award winner the great indian laughter champion -2 fame hindi hasyakavi, lyric writer,music composer, producer, director, actor, t v  artist  & blogger from surat gujarat . more than 6200 live performance world wide in last 27 years
this time i creat an unique video album SHREE HINGULAJ CHALISA for TIKAM MUSIC BANK
WebRep
Overall rating
 
Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive