Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

सबसे ज़लील व शर्मनाक बात है अपने से परास्त हो जाना



जो
बल से पराजित करता है

वह अपने शत्रुओं को सिर्फ़ आधा जीतता है

सबसे शानदार विजय है अपने पर विजय प्राप्त करना

और सबसे ज़लील शर्मनाक बात है अपने से परास्त हो जाना


-प्लेटो

प्रस्तुति : अलबेला खत्री


hindi geet,hasyakavi sammelan, albela khatri, indian poetry,poem,sahitya, alfaaz,shabd, bhart, kala,art, naya zamana

6 comments:

एस.एम.मासूम November 30, 2010 at 7:50 AM  

आज बड़े बढ़िया मूड मैं हैं ...बेहतरीन बातें बता रहे हैं ..

DR. ANWER JAMAL November 30, 2010 at 8:36 AM  

तब तो दुनिया में ऐसे लोग अल्पसंख्यक हैं जो ज़लील न हों ?

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) November 30, 2010 at 9:04 AM  

यह लालसा तो कमोबेस सबमें है!

Shah Nawaz November 30, 2010 at 12:08 PM  

बहुत ही बेहतरीन बात बताई आपने...

निर्मला कपिला November 30, 2010 at 3:31 PM  

सार्थक सूत्र। धन्यवाद।

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " December 1, 2010 at 2:09 PM  

jeevan ko sahi disha dene wali baat....
pratuti ke liye dhanyvad...

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive