Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

मन में ही रह गई "महावीर शर्मा जी" से मिलने की आरज़ू ..........वे तो चलते बने महफ़िल छोड़ के




अभी-अभी दीपक मशाल ने दु:खद समाचार बताया

भीतर ही भीतर मेरे आत्मिक अस्तित्व को रुलाया


महावीर ब्लॉग वाले वयोवृद्ध साहित्यकार

महावीर शर्मा जी नहीं रहे, उनका निधन हो गया है

ये जान कर शोक से संतप्त मेरा मन हो गया है


मन में ही रह गई आरज़ू उनसे मिलने की

भाग्य में ही नहीं थी ये कलियाँ खिलने की


प्रार्थना मन पूर्वक कर रहा हूँ विनम्र श्रद्धांजलि के साथ

सदैव रहे दिवंगत के सिर पर परमपिता का कृपालु हाथ


उनके परम सखा श्री प्राण जी शर्मा ये सदमा झेल सकें

इतना सामर्थ्य उन्हें देना दाता !


दिवंगत आत्मा के परिवारजन को हौसला देना दाता !


ओम शान्ति !

ओम शान्ति !!

ओम शान्ति !!!





8 comments:

Vijay Kumar Sappatti November 17, 2010 at 9:06 PM  

meri bhi vinamra shradhanjanli , albela ji , wo mere liye baut pujya the,. hamesha hi mera utsaah badhaaya hai ..

bhagwaan unki aatma ko jannat naseeb kare..

vijay

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) November 17, 2010 at 9:33 PM  

श्रद्धांजलि!

राजीव तनेजा November 17, 2010 at 11:47 PM  

विनम्र श्रद्धांजलि ...

फ़िरदौस ख़ान November 18, 2010 at 1:04 AM  

श्रद्धांजलि...

nilesh mathur November 18, 2010 at 5:21 AM  

श्रद्धांजलि !

Shah Nawaz November 18, 2010 at 8:25 AM  

विनम्र श्रद्धांजलि!

दिगम्बर नासवा November 18, 2010 at 2:33 PM  

Divangat aatma ko hamaari bhaavbheeni shradhanjali ...

निर्मला कपिला November 18, 2010 at 6:53 PM  

श्रद्धेय महावीर जी को विनम्र श्रद्धाँजली।

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive