Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

अब तो म्हारै केस की तू कर सुणवाई...............


आंगणियो भी धोयो, बाबा भींतां भी धुवाई

बैठण नै थारै, सोहणी  चौकी भी  सजाई


चौखट पै  फूल नहीं,  पलकां बिछाई


अब तो आजा रै


दरस कराजा  रै




तू भी भक्त रामजी को, म्हे भी भक्त राम का


तू भी म्हारै काम को है, म्हे भी तेरै  काम का 


आज म्हारै  काम सै म्हे आवाज़  लगाई


तेरै आगै  हाथ जोड़,  करां हाँ  दुहाई


अब तो म्हारै केस की तू कर सुणवाई 



हनुमत आजा रै


कष्ट मिटाजा  रै




जनता की आंख्यां  म्ह है आँसू आज खून का


ज़िन्दगी म्ह नहीं बाबा, दो पल सुकून का


दहशतवादयाँ बम फोड़, दहशत फैलाई


मुम्बई का घाव देख, आँख्यां भर आई


चारुं कानी मौत की  घुमै  है परछाई


इन्है हटा जा रै


बजरंग आजा रै


_______________अलबेला खत्री


3 comments:

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi July 19, 2011 at 10:43 AM  

हनुमान तो भारतवासियों के दिलों में है, वह सुन ले तो सब कुछ ठीक कर सकता है।

रज़िया "राज़" July 19, 2011 at 1:17 PM  

अल्बेलाजी .सच में अबतो
हनुमत आजा रै
कष्ट मिटाजा रै

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) July 20, 2011 at 6:47 AM  

जय बजरंग बली!

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive