Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

शुक्ल पक्ष से भी ज़्यादा धवल ये कृष्णपक्ष है





सत्तापक्ष है

प्रतिपक्ष है

अब पन्द्रह दिन तक

केवल

पवित्र पितृपक्ष है


ये वो उज्ज्वल मुहूर्त है

जब हमारे पुरखे हमें उम्मीद से देखते हैं


ये वो पावन पखवाड़ा है

जब हम हमारे मूल को करीब से देखते हैं


इस घड़ी में

सात्विक

और

आध्यात्मिक वातावरण हमारे जीवन में हो

पूर्वजों का श्रद्धा पूर्ण श्राद्ध घर-आँगन में हो


परम्परा ही नहीं

पितृ-तर्पण धर्माधारित फ़र्ज़ भी है अपना


पितृदोष दूर करना

वंशज के नाते बकाया कर्ज़ भी है अपना


हम चुकाएं कर्ज़ अपना

हम निभाएं फ़र्ज़ अपना


शुक्ल पक्ष से भी ज़्यादा धवल

ये कृष्णपक्ष है

ये पितृपक्ष है !

ये पितृपक्ष है !

ये पितृपक्ष है !

9 comments:

Unknown September 23, 2010 at 12:46 PM  

शुक्ल पक्ष से भी ज़्यादा धवल

ये कृष्णपक्ष है

ये पितृपक्ष है !

ये पितृपक्ष है !
वाकई शुक्ल पक्ष से भी धवल होते हैं ये दिन.....बहुत अच्छी रचना

Unknown September 23, 2010 at 1:02 PM  

...हमारे पितृओं को याद कर के...शांति पूर्ण समय व्यतीत सकने का समय है यह!....सूंदर प्रस्तुति!

Kavita Rawat September 23, 2010 at 2:52 PM  

हम चुकाएं कर्ज़ अपना
हम निभाएं फ़र्ज़ अपना
शुक्ल पक्ष से भी ज़्यादा धवल
ये कृष्णपक्ष है
ये पितृपक्ष है !
....Sundar bhavpurn sanskarit rachna ke liye dhanyavaad

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' September 23, 2010 at 6:58 PM  

जी हाँ आपकी बात में दम है!
--
कृष्णपक्ष का महत्व सबसे अधिक होता है!
क्योंकि कृष्णपक्ष में कृष्ण जी का नाम जो जुड़ा है!

Unknown September 23, 2010 at 11:07 PM  

sahi kaha aapne...

see my new blog
http://www.tikhatadka.blogspot.com/

ब्लॉ.ललित शर्मा September 24, 2010 at 6:01 AM  

सार्थक लेखन के लिए शुभकामनाये.......

“20 वर्षों बाद मिला मासूम केवल डॉन से"
आपकी पोस्ट ब्लॉग4वार्ता पर

निर्मला कपिला September 24, 2010 at 9:04 AM  

पितृदोष दूर करना
वंशज के नाते बकाया कर्ज़ भी है अपना
हम चुकाएं कर्ज़ अपना
हम निभाएं फ़र्ज़ अपना
समय पर अच्छा सन्देश। धन्यवाद।

Urmi September 24, 2010 at 10:17 AM  

बहुत सुन्दर और शानदार रचना! बधाई!
मेरे नए पोस्ट पर आपका स्वागत है-
http://ek-jhalak-urmi-ki-kavitayen.blogspot.com/

aryan July 30, 2013 at 6:13 PM  

WOW ITS GREAT POST.......

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive