Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

आज की विजेता डॉ अरुणा कपूर को बधाई ! कल के लिए माँ दुर्गा के भजन तैयार रखें -




प्यारे ब्लोगर स्वजनों !

कल वाले खेल के परिणाम की घड़ी आ गई है इसलिए परिणाम

घोषित करना मेरा फ़र्ज़ है जिसे मैं घोषित करते हुए बहुत संकुचा

रहा हूँ और दुविधा में हूँ । मैं समझ ही नहीं पा रहा हूँ कि आखिर

मुझसे लिखने में या पोस्ट करने में कहाँ - क्या चूक हुई कि

ज़्यादातर मित्र समझ ही नहीं पाए या समझ कर भी

नियम-शर्तों को अनदेखा किया ...खैर-



मैंने "मोहब्बत" लफ़्ज़ से शुरू होने वाले शे'र आमन्त्रित किये थे ।

प्रत्येक संकलित शे'र के लिए 100 और स्वरचित शे'र के लिए

200 पॉइंट्स निर्धारित किये थे । ये पॉइंट्स इस प्रतियोगिता में

तो कारगर रहेंगे ही, सहभागी के उस खाते में भी जोड़े जायेंगे

जिनके आधार पर
HTML clipboardhttp://www.Albelakhatri.com के मासिक

पुरस्कार दिए जाने हैं ।


कुल मिला कर 11 मित्रों ने रिस्पोंस दिया जिनमे से सर्वश्री

राज भाटिया, किरण राजपुरोहित नितिला, कुमार राधारमण,

पं डी के शर्मा 'वत्स' और जाकिर अली रजनीश जी ने तो केवल

अपनी सदभावनाएँ ही भेजीं शे'र नहीं - जबकि उड़नतश्तरी फेम

समीरलाल 'समीर' ने 5 , श्रीमती आशा जोगलेकर ने 1 ,

वन्दना जी ने 1, डॉ अरुणा कपूर ने 1 और रूपचंद्र शास्त्री 'मयंक'

जी ने 2 स्वरचित शे'र भेजे जिनके लिए मैं आप सभी

सहभागियों का कृतज्ञ हूँ ।



लेकिन एक लफड़ा हो गया ___ लफड़ा ये हो गया कि स्वरचित

शे'रों के साथ सहभाग लेकर भले ही समीरलालजी ने 1000,

आशाजी ने 200 और वन्दनाजी ने भी 200 पॉइंट्स अर्जित

किये परन्तु चूँकि आप तीनों ने स्वयं को
HTML clipboardhttp://www.Albelakhatri.com

पर पंजीकृत किया हुआ नहीं है इसलिए अत्यन्त खेद के साथ मुझे

आपकी प्रविष्टि को बाहर रखना पड़ेगा क्योंकि मैंने पहले ही लिख

दिया था कि पंजीकृत होना और ब्लॉग पर on line talent search

का लिंक कोड लगाना अनिवार्य है ।



हालांकि आपके पॉइंट्स सुरक्षित हैं और जब भी आप पंजीकृत

होंगे, ये आपके खाते में जोड़ दिए जायेंगे जिससे आपके लिए

मासिक पुरस्कारों का मार्ग प्रशस्त होगा ।



अब बचे दो पंजीकृत लोग - डॉ अरुणाजी कपूर जिन्होंने 1

स्वरचित काव्य भेजा और डॉ रूपचंद्र शास्त्री जी जिन्होंने दो

स्वरचित शे'र भेजे लेकिन "मोहब्बत" लफ़्ज़ से एक ही शुरू

होता है इसलिए दोनों के 1-1 शे'र के कारण 200-200 पॉइंट्स

हुए लिहाज़ा परिणाम किसके पक्ष में हो, ये दुविधा तो होनी ही

थी । परन्तु रास्ता मिल गया क्योंकि डॉ अरुणा कपूर ने अपना

पंजीकरण करते समय प्रोफाइल पूर्ण रूप से भर कर शास्त्री

जी की अपेक्षा ज़्यादा पॉइंट कमा रखे हैं जबकि शास्त्रीजी ने

अभी तक अपना फोटो और प्रोफाइल अप डेट नहीं किया है


सो आज की विजेता हैं - डॉ अरुणा कपूर !


बधाई हो अरुणा जी, 24 घंटे के भीतर इनामी राशि रूपये 500

तो आपको भिजवा ही दी जायेगी साथ ही

HTML clipboardhttp://www.Albelakhatri.com पर आपको हाई लाइट भी किया

जाएगा ।


कृपया आप आपने ब्लॉग/वेब साईट पर ये लिंक ज़रूर लगालें

ताकि आपकी प्रत्येक ताज़ा पोस्ट को और ज़्यादा लोगों तक

पहुंचाने के लिए लगातार दिखाया जा सके ।


Albela Khatri, Online Talent Serach, Hindi Kavi

ठीक 12 घंटे बाद
अगली पोस्ट में हम एक नया खेल खेलेंगे,

कृपया आप सब जगतजननी माँ दुर्गा जी के गुणगान वाली

धार्मिक रचनाएं तैयार रखें क्योंकि अगली स्पर्धा में आपको

वही भेजनी है ।


शर्तें और नियम वही रहेंगे -


संकलित रचना पर 100 पॉइंट्स और स्वरचित पर 200 पॉइंट्स

दिए जायेंगे जो कि स्पर्धा के अलावा मासिक पुरस्कार के लिए

भी जोड़े जायेंगे ।


सहभागी का
HTML clipboardhttp://www.Albelakhatri.com पर पंजीकृत होना तथा

ब्लॉग पर कोड लगाना अनिवार्य है ।



जिन मित्रों ने मेरी पिछली दो पोस्ट नहीं पढ़ी हैं उनकी जानकारी

के लिए बता दूँ कि एक अभियान शुरू किया है नवोदित तथा

अवसरों से वंचित प्रतिभाओं को स्टेज, टी वी, फ़िल्म और म्यूजिक

इंडस्ट्री तक पहुँचाने के लिए
HTML clipboardhttp://www.Albelakhatri.com पर

on line talent search चलाया जा रहा है जहां आप सभी अपने

आप को भरपूर प्रमोट कर सकते हैं और ख़ुद को प्रमोट करते हुए

नगद राशि भी सम्मान के रूप में प्राप्त कर सकते हैं



तो देर किस बात की आइये, अपनी श्रेणी चुनिए और पंजीकृत हो

जाइए...........जय हिन्दी - जय हिन्द !


छापते-छापते : श्री मजाल जी का शे'र भी प्राप्त हुआ लेकिन समय

की मर्यादा के चलते उसे सम्मिलित नहीं किया जा रहा परन्तु इस

शानदार शे'र के लिए उनका हार्दिक हार्दिक धन्यवाद ।


शुभ नवरात्रि ! जय माता दी !



5 comments:

गजेन्द्र सिंह October 7, 2010 at 10:46 PM  

बहुत बढ़िया ....

पढ़िए और मुस्कुराइए :-
सही तरीके से सवाल पूछो ...

'अदा' October 8, 2010 at 3:38 AM  

bahut hi accha kaam aap kar rahe hain..
aabhaari hun..

डा. अरुणा कपूर. October 8, 2010 at 11:49 AM  

...सब से पहले तो मै नवरात्री के शुभ पर्व की अनेको शुभ-कामनाएं भेज रही हू अलबेलाजी!...माता रानी की कृपा आप पर और यहां जुडने वाले सभी पर हंमेशा बनी रहे यही...मैयाजी के चरणों में प्रार्थना!...आप ने यह शुभ काम आरंभ किया है...बहुत खुशी हुई...अनेक शुभेच्छाएं...प्रगति के रास्ते पर आप आगे बढतें रहे!...प्रसिद्धि के शिखर सर करतें रहे यही आशिर्वाद!....मेरी रचना पसंद आई, यही खुशी मेरे लिए बहुत बडी है!...बधाई!

Babli October 8, 2010 at 12:04 PM  

वाह! बहुत बढ़िया!

कुमार राधारमण October 8, 2010 at 10:40 PM  

सरस्वती की कृपा लक्ष्मी प्रेमियों को भी चाहिए। आश्चर्य,कि प्रमुख देवी-देवताओं में,सरस्वती से जुड़े भजन बिरले ही सुनने को मिलते हैं। शायद अबकी कुछ उपयोगी लिंक मिल सकें।

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive