Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

फिर सुबह आएगी ...फिर सुबह आएगी

सन्नाटे के सीने में तूफ़ान छिपा है
दर्द के दिल में खुशियों का सामान छिपा है
अंधियारे के आँचल से सूरज निकलेगा
काँटों के साए में फिर से फूल खिलेगा
रात बहुत लम्बी है लेकिन कट ही जायेगी
फिर सुबह आएगी........
फिर सुबह आएगी........

4 comments:

Udan Tashtari May 21, 2009 at 7:45 AM  

भई, ब्लॉगवाणी पर क्यूँ नहीं दिख रहे हो...चेक किया है क्या?

AlbelaKhatri.com May 21, 2009 at 8:03 AM  

main bhi do din se yahi soch raha hoon ki blogvani se rishta toot kaise gaya?
aaj punah: janch karta hoon.....
DHYAN DILANE K LIYE HARDIK AABHAAAAR

रंजन May 21, 2009 at 9:14 AM  

जरुर आयेगी...

Kiran Sindhu May 21, 2009 at 1:55 PM  

बहुमुखी प्रतिभा के धनी कलाकार अलबेला जी को किरण सिन्धु का नमस्कार. आपने मेरे आलेख "मेरी सहभागिता " की सराहना की इसके लिए बहुत - बहुत धन्यवाद. पाठकों की प्रतिक्रिया मेरी लेखनी की शक्ति है और मूल्यांकन मेरे विचारों का मापदंड. लेखन में मेरी रूचि किशोरावस्था से ही रही है, इन्टरनेट के माध्यम से अभिव्यक्ति को एक नया आयाम मिला है.

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive