Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

क्योंकि मौत यह देखने के लिए खड़ी नहीं रहेगी




कल का काम आज ही कर लेना

और शाम का काम सुबह ही कर लेना;

क्योंकि मौत यह देखने के लिए खड़ी नहीं रहेगी

कि इस आदमी ने

अपना काम पूरा कर लिया या नहीं


-
महावन












www.albelakhatri.com

4 comments:

शिवम् मिश्रा July 7, 2010 at 8:44 AM  

सत्य वचन , महाराज !!

MLA July 7, 2010 at 9:11 AM  

Mahaan Vichar......zabardast soch!

राज भाटिय़ा July 7, 2010 at 8:46 PM  

तभी तो हमारे मित्र अगस्त मै ही नये साल की बधाई देनी शुरु कर देते थे... एक बार पुछ ही लिया कि अभी से क्यो... बोले अगर तुम मर गये तो मै थोडे पीछे आंऊगा बधाई देने, अब हम जुलाई मै ही उन्हे बधाई देने चालू हो गये तो वो भी रास्ते पर आ गये

DR. ANWER JAMAL July 7, 2010 at 9:29 PM  

ब्लागर की तक़दीर ज़माने से उलट होती है ।
जगता है ब्लागर जब दुनिया सोती है ॥
हक ए माशूक़ यूँ अदा करता है दिन में ही ।
ताकता है ऊपर कि ज़मीं आसमान होती है ॥
kyunki is vishay par apka achcha adhikar hai isliye ye sher apko saunpta hun . aap aaye meri post padhi aur saraahi , shukriya .

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive