Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

कमाल की समानतायें हैं रामदेव बाबा , रजत शर्मा और राखी सावंत में....क्या आपने महसूस कीं ?

जी हाँ !

ये आश्चर्यजनक किन्तु सत्य मेरे दिमाग में अभी अभी आया है कि

रामदेव बाबा, रजत शर्मा और राखी सावंत, ये तीनों महारथी

मानो एक ही खजूर की तीन गुठलियाँ हैं


कमाल की समानतायें हैं इनमें..........


क्या आप बता सकते हैं कि क्या क्या समानताएं हैं इन तीनों में ?


यदि हाँ !

तो तुरन्त बतायें

और जो मित्र नहीं बता सकते वे कल जान ही जायेंगे ..

इसी जगह..इसी ब्लॉग पर, इसी अलबेला खत्री की लेखनी से...

तब तक सोचिये....

प्रतीक्षा कीजिये............


16 comments:

Mithilesh dubey November 8, 2009 at 10:11 PM  

मुझे तो नहीं पता, कल का इन्तजार रहेगा।

संगीता पुरी November 8, 2009 at 10:16 PM  

मुझे तो एक समानता तुरंत नजर आ गयी .. तीनों का नाम आर से शुरू होता है .. बाकी बाद में देखते हैं !!

Anil Pusadkar November 8, 2009 at 10:20 PM  

ये क्या तरीका है अपने ब्लाग पर बुलाने का?हम तो वैसे भी बिन बुलाये आते हैं।राखी,रामदेव और रजत का नाम लेकर काहे बुला रहे हो।

Mohammed Umar Kairanvi November 8, 2009 at 10:23 PM  

अलबेला जी तीनों के नाम के नाम R र से आरम्‍भ होते हैं, अगर आप यह पोस्‍ट कल लिखते तो इसमें एक R और जोडदेते रवि महाराज, जहां तक मैं समझता आजकल रामदेव देवजी की देवबंद सम्‍मेलन की वजह से सबको याद आ रही है, आज रवि जी भी देवबंद पधार चुके कल के अखबारों से उन्‍हें भी याद किया जायेगा,
आपके आशिर्वाद से मेंने इनकी घुच्‍ची पर खास ध्‍यान दिया था, नतीजा 2-3 दिन से सब देख ही रहे हैं,
अनुमान गलत हो तो बताईयेगा
आपसे सदैव प्रेरणा अभिलाषी

satish aliya November 8, 2009 at 10:25 PM  

teeno chakhchakh krte hain. teeno khbro mein bne rhte hain. teeno hi agabheer hain. sabd to kai jehan mein aa rhe hain lekin hum kyon in sabdon ka istemal krein, bas smajh lijiye aur kya smanta ho skti hain.

काजल कुमार Kajal Kumar November 8, 2009 at 10:27 PM  

तीनों का काम केवल खबर में बने रहना है

वन्दना अवस्थी दुबे November 8, 2009 at 10:45 PM  

पहली नज़र में मुझे भी इन तीनों में जो समानता दिखी वो संगीता जी की तरह ही....इन तीनों का नाम "र" से शुरु होता है.

विनोद कुमार पांडेय November 8, 2009 at 11:17 PM  

हम भी जानने को उत्सुक हो कर इंतज़ार करने वालों की कतार में खड़े हैं..

MANOJ KUMAR November 8, 2009 at 11:31 PM  

r ke alawa a bhi hai. right approach..

राज भाटिय़ा November 8, 2009 at 11:55 PM  

दो के बारे राम देव जी ओर राखी यह दोनो आधे नंगे है तीसरे को हम जानते नही, जानते तो हम इन दोनो को भी नही, लेकिन इन्हे टी वी पर देखा है, एक साधू है इस लिये नंगा है.... ओर राखी पता नही क्या दिखाना चाहती है अंधनगी हो कर:)

राजीव तनेजा November 9, 2009 at 1:19 AM  

तीनों को तमाशबीनी कर भीड़ इकट्ठी करनी आती है

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक November 9, 2009 at 10:15 AM  

इस आश्चर्यजनक खोज के लिए बधाई!

Babli November 9, 2009 at 10:55 AM  

मुझे इन तीनों में ये समानताएं दिखती है -
पहला ये की तीनों का नाम "र" से शुरू होता है !
दूसरा ये की तीनों को हमेशा ख़बर में दिखाई देता है !
तीसरा ये की तीनों हमेशा चर्चा का विषय बने रहते हैं !
चौथा ये की इन्हें देख कर सभी लोग सोचना बंद कर देते हैं और महान समझते हैं !

Murari Pareek November 9, 2009 at 11:40 AM  

रामदेवजी कपाल भाती करवाके शांस फुल्वाते हैं और राखी सांवत को देखते ही शांस फुल जातीहै !!! रज्जत शर्माजी !!!! इनका पता नहीं !!!

Pandit Kishore Ji November 9, 2009 at 7:22 PM  

teeno hi hamesha khabro me rahna jaante hain va teeno ka naam r se aata hain

mahashakti November 9, 2009 at 9:04 PM  

सब जायज है, इंतजार नही।

Post a Comment

My Blog List

Google+ Followers

About Me

My photo

tepa & wageshwari award winner the great indian laughter champion -2 fame hindi hasyakavi, lyric writer,music composer, producer, director, actor, t v  artist  & blogger from surat gujarat . more than 6200 live performance world wide in last 27 years
this time i creat an unique video album SHREE HINGULAJ CHALISA for TIKAM MUSIC BANK
WebRep
Overall rating
 
Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive