Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

घोड़ा मांगने पर गांधीजी ने डांट दिया नेहरू जी को..

आज 14 नवम्बर है .

पूरा देश जवाहर लाल नेहरू का जन्मदिवस

बाल दिवस के रूप में मना रहा है



एक बार बाल वर्ष भी मनाया गया था

हालाँकि तस्वीरें देखने से पता लगता है कि उनके सर पे बाल थे ही नहीं

इसीलिए हमारे देश में बाल विवाह पर प्रतिबन्ध लागू है ताकि किसी टकलू

महाराज के सर पर बचे खुचे बाल आपस में विवाह करके सन्तानोत्पत्ति

कर सकें



बाल एक विचित्र किन्तु सत्य वस्तु है जिसका हर भाषा में अलग अर्थ होता

हैकुछ भाषाओं में तो इतना वाहियात मतलब होता है कि बोलने की

रिस्क ही नहीं लेनी चाहिए क्योंकि वहाँ के लोग मारते वक्त गिनते नहीं



खैर..............

आज दिन निकलते ही गांधी पार्क वाले गांधी ने नेहरू पार्क वाले

नेहरूजी को मिसकाल दे कर, उन्हें जन्मदिन की बधाई दी और

कुशल क्षेम पूछा तो जवाबी मिसकाल में नेहरूजी ने शिकायत

की कि पावों में थकान सी महसूस हो रही है खड़े खड़े, अगर बैठने

के लिए एक घोड़ा मिल जाता तो ..आराम मिल जाता ..........


ये सुनते ही गांधी जी आग बबूला हो गए और अगली बार बाकायदा

काल करके, नेहरू जी को डांटा ....क्या आप अनुमान लगा सकते

हैं कि गांधी जी ने क्या कहा होगा ? किन शब्दों में डांटा होगा ?



यदि हाँ, तो तुरन्त लिख भेजिए

और यदि ना तो प्रतीक्षा करें मेरे अगले अंक की..








2 comments:

जी.के. अवधिया November 14, 2009 at 11:28 AM  

क्या जवाब दें, हमारी तो खोपड़ी ही घूम गई है आपके सवाल से। बड़ी बेचैनी के साथ इंतजार है जी अगले पोस्ट की!

राज भाटिय़ा November 14, 2009 at 4:08 PM  

ना ना ना जी गांधी बाबा तो कभी भी इस चाचू को डांट नही सकते... अजी इन्ही की जिद के आगे तो देश का सत्य नाश कर दिया, वरना अगर पहले प्राधान मत्री कोई ओर होता तो आज आमेरिका हम से भीख लेता, देता नही, काशमीर की तरफ़ कोई आंख ऊठा कर देखने के कोशिश ना करता, जो आज पकिस्तान हमे बात बात पर आंखे दिखा रहा है, अजी चाचू को घोडा नही रायल्स एंड रोलेय ले कर देगे.
इस धुम से कयो नही लाल बाहदुर शास्त्री का जन्म दिन मनाया जाता??

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive