Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

आगे ममता है पीछे सोनिया खड़ी है यार फँस गए मन्नू दो लुगाइयों के बीच में

"दो पाटन के बीच में साबुत बचा कोय "
कबीरजी की इन पंक्तियों से प्रेरित यह छन्द हमारे प्रधान मंत्री
डॉ मनमोहन सिंह के लिए सहानुभूति स्वरुप................


एक कड़ाही दो हलवाइयों के

बीच जैसे

एक मेमना हो दो कसाइयों के बीच में



एक चोर फँसे दो सिपाहियों के

बीच जैसे

एक सिपाही दो आतताइयों के बीच में



एक भाजपाई दो इन्काइयों के

बीच जैसे

एक इन्काई दो भाजपाइयों के बीच में



आगे ममता है पीछे सोनिया

खड़ी है यार

फँस गए मन्नू दो लुगाइयों के बीच में

7 comments:

पी.सी.गोदियाल November 2, 2009 at 10:04 AM  

और दाए बाएँ से फरसा हाथ में लिए माया और उमा बहने हो तो क्या कहने ! बहुत खूब !

SHIVLOK November 2, 2009 at 10:44 AM  

Vah vah vah vah vah vah vah vah vah vah vah vah vah
A very deep sympathy with Mannu ji (P M )
Thanks Albela Ji

Anonymous November 2, 2009 at 11:44 AM  

bilkul sahi kaha aapne....bechare manuji....

Nirmla Kapila November 2, 2009 at 11:50 AM  

vaah vaah bahut sundar badhai

परमजीत बाली November 2, 2009 at 3:00 PM  

वाह!! बहुत बढ़िया।......

दो पाटन के बीच में.....

महेन्द्र मिश्र November 2, 2009 at 3:17 PM  

मन्नू जब दो लुगाईओं के बीच फंस गया है तो उसे लुगाईओं सहित पर्विआर कल्याण परामर्श केंद्र भिजवा दीजिए

mehta November 2, 2009 at 5:09 PM  

vah vah tusi great ho dost

Post a Comment

My Blog List

Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive