Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

एक अभिशाप है गरीब मेरे देश में.........

चोरों-डाकुओं के लिए

बने हैं आरामगाह,

शरीफ़ों के लिए है सलीब मेरे देश में


नौ सौ निन्यानबे रक़ीब

हैं जो क़ौम के तो

एक है हज़ारों में हबीब मेरे देश में


सारा जहां जानता है

भारत की हालत को

लिखे तो भी क्या लिखे अदीब मेरे देश में


ज़िन्दगी अमीर की जो

तोहफ़े के समान है तो

एक अभिशाप है गरीब मेरे देश में

9 comments:

Anurag Harsh September 3, 2009 at 8:45 AM  

सच में गरीब अभिशाप है मेरे देश में। शानदार

निर्मला कपिला September 3, 2009 at 10:03 AM  

ज़िन्दगी अमीर की जो

तोहफ़े के समान है तो
एक अभिशाप है गरीब मेरे देश में
फिर भी मेरा भारत महान है जै हिन्द
अच्छी रचना है बधाई

ओम आर्य September 3, 2009 at 12:49 PM  

सारा जहां जानता है

भारत की हालत को

लिखे तो भी क्या लिखे अदीब मेरे देश में

क्या कहे शब्द अब मौन से ब्यान हो जायेंगे ...........

Chandan Kumar Jha September 3, 2009 at 1:25 PM  

क्यां कहे अभिशप्त है देश अपना.......पर नये रास्ते भी जरूर निकलेंगे.

शरद कोकास September 3, 2009 at 1:52 PM  

भैया ये हम लोगों के घर की भीतरी हालत आपको कहाँ से मालूम हो गई ? अच्छा क्या कहा अपने घर जैसा हाल सब के यहाँ है हा हा हा !!!

शिवम् मिश्रा September 3, 2009 at 2:03 PM  

मेरे दिल की बात....

जो मरे कोई "नेता" तो रोते है हजारो,
झुकते है "झंडे" और "सिर" भी |



न होती कोई आँख नम,
न पड़ता फर्क किसी को,



जवान बेटे , भाई होते शहीद ,
जब जब गिरते 'मिग' मेरे देश में ..... |



रोता है दिल ,रोता हूँ मैं भी ....
क्यों है "शहादत" के यह हाल मेरे देश में ...??



घर घर शहीद की बेवा,
क्यों मांजती है थाल मेरे देश में .....??



नहीं है कोई बैर नेताओ से मुझ को,
न मैं कहेता कि "जाए" कोई भी 'एसे',



रहेगा "गणतंत्र" तो रहेगे नेता भी,
है दुनिया का सब से बड़ा प्रजातंत्र मेरे देश में ...|



बस चाहता हूँ इतना .....,
कि मिले शहीदों को मान मेरे देश में ....||

शिवम् मिश्रा September 3, 2009 at 2:08 PM  

जो मरे कोई "नेता" तो रोते है हजारो,
झुकते है "झंडे" और "सिर" भी |



न होती कोई आँख नम,
न पड़ता फर्क किसी को,



जवान बेटे , भाई होते शहीद ,
जब जब गिरते 'मिग' मेरे देश में ..... |



रोता है दिल ,रोता हूँ मैं भी ....
क्यों है "शहादत" के यह हाल मेरे देश में ...??



घर घर शहीद की बेवा,
क्यों मांजती है थाल मेरे देश में .....??



नहीं है कोई बैर नेताओ से मुझ को,
न मैं कहेता कि "जाए" कोई भी 'एसे',



रहेगा "गणतंत्र" तो रहेगे नेता भी,
है दुनिया का सब से बड़ा "प्रजातंत्र" मेरे देश में ...|



बस चाहता हूँ इतना .....,
कि मिले शहीदों को मान मेरे देश में ....||

Randhir Singh Suman September 3, 2009 at 7:01 PM  

niceAlbela Khatri

Albela Khatri With Raju Shrivastav and Rakhi Sawant Albela Khatri With Navjot Singh Siddhu and Smiriti Irani
Albela Khatri Albela Khatri Albela Khatri Albela Khatri
Albela Khatri Albela Khatri Albela Khatri Albela Khatri
Albela Khatri on SONY TV win Comedy ka Badshah Albela Khatri On Star One The Great Indian Laughter Champions 2
<< More Photos << More Photos

ताज़ा टिप्पणियां
एक अभिशाप है गरीब मेरे देश में.........
Posted by AlbelaKhatri.com Wednesday, September 2, 2009

चोरों-डाकुओं के लिए

बने हैं आरामगाह,

शरीफ़ों के लिए है सलीब मेरे देश मेंnice.........nice

राजीव तनेजा September 3, 2009 at 11:43 PM  

सत्य वचन

Post a Comment

My Blog List

myfreecopyright.com registered & protected
CG Blog
www.hamarivani.com
Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive