Albelakhatri.com

Hindi Hasya kavi Albela Khatri's blog

ताज़ा टिप्पणियां

Albela Khatri

गीत गायेंगे मेरे.................................



आपके भी होंठ इक दिन,

गीत गायेंगे मेरे

नींद होगी आपकी पर

ख्वाब आयेंगे मेरे


आपके भी...


जागेगी जिस दम जवानी, जिस्म लेगा करवटें

रात भर तड़पोगी, बिस्तर पर पड़ेंगी सलवटें

आँखें होंगी आपकी पर

आँसू आयेंगे मेरे

आपके भी...



जब कभी दर्पण में देखोगी ये कुन्दन सा बदन

ख़ूब इतराओगी इस मासूमियत पर मन ही मन

मद तो होगा आप पे, पग

डगमगायेंगे मेरे


आपके भी...



राह चलते आपको गर लग गई ठोकर कभी

ख़ाक़ कर दूंगा जला कर, राह के पत्थर सभी

पांव होंगे आपके पर

घाव पायेंगे मेरे


आपके भी...



जब कभी दुनिया में ख़ुद को तन्हा पाओगी प्रिये

जब शबे-फुर्कत में दिल मचलेगी साथी के लिए

आप अपने आप को तब

पास पायेंगे मेरे



आपके भी...

2 comments:

Unknown July 31, 2009 at 10:25 AM  

आप अपने भाव को गीतो की माला मे पीरो डाला । आभार

ओम आर्य July 31, 2009 at 2:27 PM  

bahut hi sundar ........kya bat hai aaj aap to ekdam priyatam ke ho liye....khubsoorat

Post a Comment

My Blog List

myfreecopyright.com registered & protected
CG Blog
www.hamarivani.com
Blog Widget by LinkWithin

Emil Subscription

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Followers

विजेट आपके ब्लॉग पर

Blog Archive